सिंगल यूज़ प्लास्टिक निबंध हिंदी में : Essay on single use plastic in Hindi

सिंगल यूज़ प्लास्टिक निबंध हिंदी में : Essay on single use plastic in Hindi


Single use plastic पर प्रतिबंध आज-कल का एक ज्वलंत विषय है क्योंकि सरकार ने single use plastic का उपयोग बंद करने और पर्यावरण के अनुकूल कैरी बैग का उपयोग करने के लिए अभियान शुरू किया है। सिंगल यूज़ बैन पर एक सारगर्भित निबंध निम्लिखित है।  

Essay on single use plastic ban in Hindi
Essay on single use plastic ban in hindi

सिंगल यूज़ प्लास्टिक निबंध हिंदी में Essay on single use plastic in Hindi


हम हर साल लाखों टन सिंगल यूज़ प्लास्टिक का उत्पादन करते हैं, जिनमें से अधिकांश को पुनर्नवीनीकरण नहीं किया जा सकता है। single use plastic में प्लास्टिक की थैलियां, पॉलीथिन, straws, प्लास्टिक के गिलास, प्लास्टिक के सोडा और पानी की बोतलें और खाद्य पैकेजिंग आइटम आदि शामिल हैं। ये single use plastic केवल एक बार उपयोग किए जाते हैं और फिर रीसायकल (recycle) के लिए कचरे के रूप में फेंक दिए जाते हैं।


प्लास्टिक की थैलियां (Plastic Bags) या प्लास्टिक बायोडिग्रेडेबल नहीं होते हैं और आमतौर पर एक जमीन के अंदर चले जाते हैं जहां यह दब जाता है या यह पानी में चला जाता है और कुछ दिनों के बाद विभिन्न तरीकों से यह समुद्र में चला जाता है। वे मिट्टी और जल निकायों में प्रवेश करते हैं और छोटे कणों में टूट जाते हैं, लेकिन वे विघटित नहीं होते हैं। single use plastic सौ से अधिक वर्षों तक मिट्टी और पानी में रहते हैं और विषाक्त रसायनों को छोड़ते हैं और इस तरह हमारे सुंदर ग्रह और पर्यावरण को नुकसान पहुंचाते हैं। प्लास्टिक की थैलियां (Plastic bags) जो जल निकायों में प्रवेश करती हैं, जल प्रदूषण का एक प्रमुख कारण हैं और इस प्रकार हमारे पर्यावरण को हर संभव तरीके से खराब कर रही हैं।
सिंगल यूज़ प्लास्टिक बैन निबंध हिंदी में : Essay on single use plastic ban in Hindi
Essay on Single use plastic ban in hindi

सिंगल यूज़ प्लास्टिक निबंध हिंदी में : Essay on single use plastic ban in Hindi

Single use plastic का उपयोग मनुष्य, जानवरों और समुद्री जीवों के लिए बहुत हानिकारक है। जल निकायों में या समुद्री जलीय जंतु अपने भोजन के साथ प्लास्टिक के कणों का सेवन करते हैं। प्लास्टिक को पचाया नहीं जा सकता है और इस तरह उनकी आंत में फंस जाता है और गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं उत्पन्न होती हैं।

प्लास्टिक की थैलियों का उत्पादन जो single use plastic है विषाक्त पदार्थों को छोड़ता है जो इसके उत्पादन में शामिल लोगों में गंभीर बीमारी का कारण बन सकता है। प्लास्टिक पर्यावरण प्रदूषण के प्रमुख कारणों में से एक है। प्रदूषित वातावरण मानव में विभिन्न रोगों का एक प्रमुख कारण है।

हमें single use plastic के कारण होने वाली समस्याओं को समझने और उनके उपयोग को रोकने की आवश्यकता है। इसलिए यह स्पष्ट है कि हम single use plastic का उपयोग न करें एवं पर्यावरण के अनुकूल उत्पादों और सेवाओं की ओर बढ़ें । हमें अपने ग्रह, पर्यावरण और मानव की रक्षा के लिए single use plastic का उपयोग करना बंद कर देना चाहिए।

भारत सरकार ने भारत को single use plastic से मुक्त करने के लिए देश भर में single use plastic के उपयोग को हतोत्साहित करने के लिए एक multi-ministerial योजना की शुरुआत की है। प्लास्टिक बैग, कप, प्लेट, पानी की बोतल, straws आदि पर देशव्यापी प्रतिबंध पहले से लागू है।

उपरोक्त के मद्देनजर हमारी प्रकृति, ग्रह और सभी जीवित प्राणियों के प्रति हमारी यह जिम्मेदारी है कि उन्हें खुश, स्वस्थ और समृद्ध बनाने के लिए single use plastic का उपयोग करना बंद करें।

सिंगल यूज़ प्लास्टिक से सम्बंधित कुछ अन्य महत्वपूर्ण तथ्य: Important facts about single use plastic


सिंगल यूज़ प्लास्टिक क्या है? single use plastic kya hai? What is single use plastic?


ऐसा प्लास्टिक जिसका उपयोग हम केवल एक ही बार करते है सिंगल यूज़ प्लास्टिक कहलाते है साधारण भाषा में हम लोग इसे डिस्पोजेबल प्लास्टिक कहते हैं single use plastic में प्लास्टिक की थैलियां (Plastic Bags), पॉलीथिन (Polythene), Straws, प्लास्टिक के गिलास (Plastic Glass), सोडा और पानी की बोतलें (Soda and Water Bottles) और खाद्य पैकेजिंग आइटम (Food packaging items )आदि शामिल हैं।



सिंगल यूज़ प्लास्टिक बैन क्यों किया जा रहा है? Single use plastic ban kyo kiya ja raha hai?


जलवायु परिवर्तन के परिणाम स्वरूप बिगड़ता पर्यावरण सम्पूर्ण विश्व के लिए सबसे बड़ी चिंता का विषय है. ऐसे में प्लास्टिक से पैदा होने वाले प्रदूषण को रोकना एक बहुत बड़ी चुनौती है. प्रत्येक साल कई लाख टन Single use plastic का उत्पादन (produce) हो रहा है, जो कि मिट्टी में नहीं घुलता-मिलता (Biodegradable) है. इसलिए विश्व भर के देश सिंगल यूज प्लास्टिक के इस्तेमाल को रोकने के लिए कठोर रणनीति बना रहे हैं. जिससे Single use plastic से उत्पन्न होने वाली बीमारियों एवं प्रदूषण पर नियंत्रण किया जा सके

इसे भी पढ़े: Single use Plastic ban Essay in English

Post a Comment

0 Comments