पढाई में मन कैसे लगायें भाग-1 । Padai Me Man Lagane Ke upay

Padai me man lagane ke upay :

क्या आपका मन पढ़ाई में नही लगता या पढाई करते समय ऐसा होता है कि हम पढ़ कुछ और रहे है और हमारा ध्यान कही और है। पता चलता है कि हमने पूरा पेज पढ़ लिया लेकिन होश आने पर पता चला की हम तो कुछ और ही सोच रहे थे। ऐसा क्यों होता है? क्या पढ़ाई में मन नही लगता है? या कुछ और चीज हमे पढ़ाई से दूर खींच रही हैं?


तो अब हमें सबसे पहले इन चीजो का पता लगाना चाहिए जो हमे विचलित कर रही है उनमें से कुछ निम्नलिखित कारण हो सकते है:-

पढ़ाई में मन न लगने के क्या-क्या कारण हैं:-


➤ सोशल नेटवर्किंग साइट्स/मोबाइल की आदत

➤ अन्य  विचार जो हमें प्रतिदिन हमारे चारों तरफ की घटनाओं से उत्पन्न होते हैं

➤ पारिवारिक स्थिति

➤ शोर-शराबा

सोशल नेटवर्किंग साइट्स/मोबाइल की आदत


सोशल नेटवर्किंग साइट्स जैसे की फेसबुक, ट्विटर, youtube ये सब ऐसे प्लेटफार्म हैं जहाँ आप अपना सारा टाइम बिता सकते हो वास्तव में इन सबको इसी लिए बनाया ही गया हैं जब आप इन सब सोशल साइट्स को यूज़ करने लगते हो तो आप अपने बस में नही रहते हो बल्कि या सोशल साइट्स आपको अपने बस में कर लेती है अब यहाँ पर आप अगर 5 मिनट बिताना चाहते हो तो 5 घंटे अपने-आप यह ले लेती है .




अन्य  विचार जो हमें प्रतिदिन हमारे चारों तरफ की घटनाओं से उत्पन्न होते हैं


अब हम अगर दूसरे कारणों पर ध्यान दे तो पाएंगे कि जो हमारी दिनचर्या होती है हमारा अधिकतम ध्यान उधर ही रहता है जैसे की अगर हम आज पूरा दिन मित्रों के साथ मस्ती में बिताएं तो रात में स्वपन भी उन्हीं के साथ होने जैसे आते है यहाँ तक की हमें उन में से कुछ पलों की याद कुछ दिन तक आती रहती है। तो जब हम कोई काम पूरा दिन करते है तो दूसरा काम करते समय भी उसकी याद आती है जो कि हमें दूसरा काम करने से विचलित करती है। यहाँ अगर दूसरा काम पढाई करना है तो पढाई से मन विचलित होना स्वाभाविक हो जाता है।

पारिवारिक स्थिति


बहुत बार पारिवारिक स्थिति के कारण भी हमारा मन विचलित रहता है । परिवार में हो रही अनेक समस्याओं को देखते हुए अधिकतम लोग उसी कारण में उलझे रहते हैं और उनका मन किसी भी और कार्य में नही लगता।

शोर-शराबा 


अगर आस-पास शोर-शराबा होता रहता तो मन अशांत रहता है और इससे padhai me man nahi lagata है 

अब हम आगे देखेंगे की इन सब विसंगतियों को दूर करके padhai me man kaise lagaya jaye 

padai me man kaise lagaye



पढ़ाई में मन ऐसे लगाएं ( Padhai Me Man Aise Lagaye):-

उपरोक्त कारणों के समाधान के साथ पढ़ाई में मन आसानी से लगाया जा सकता है और एक सफल ब्यक्ति बना जा सकता है।

1.  हमे मोबाइल और सोशल नेटवर्किंग साइट्स से दूर रहना चाहिए या बहुत अधिक जरुरी होने पर ही इसका उपयोग करना चाहिए और बहुत ही कम समय के लिए या अधिकतम 5 मिनट के लिए ही इसका उपयोग करना चाहिए।

2.  हमे प्रत्येक कार्य के लिए समय सारणी बनाना चाहिए और उसके अनुसार सब कार्य करना चाहिए। यदि हम समय सारणी के अनुसार कार्य करेंगे तो पढ़ाई करने का समय निश्चित रहेगा और यह प्रतिदिन उसी समय पढाई की जायेगी जिससे ये आपकी आदत बन जायेगी और आपका मन पढ़ाई में लगेगा।

3. जब हमारी उम्र पढ़ाई करने की है या जब तक हम सफल नही हो जाते तब तक हमें पारिवारिक जिम्मेदारियों या समस्यों से दूर रहना चाहिए ।

4. हमे पढ़ाई के समय शांत वातावरण की जरूरत है अतः हमें समय सारणी बनाते समय इन चीजों का ध्यान रखना चाहिए। और अपना स्टडी ज़ोन शांत क्षेत्र में तलाशना चाहिए।

5. स्वस्थ्य शरीर में स्वस्थ्य मष्तिष्क का वास होता है। अतः हमें संतुलित भोजन करना चाहिए साथ ही शारीरिक रूप से स्वस्थ्य रहना चाहिए।


इसे भी पढ़ें: पढाई में मन कैसे लगाएं भाग- 2 

padai me man lagane ke upay



Post a Comment

7 Comments